September 23, 2021

बच्चों को निमोनिया से बचाने पीवीसी टीकाकरण कार्यक्रम का हीरामादला से हुआ शुभांरभ

जिले में राज्य शासन के निर्देशानुसार स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा कलेक्टर पुषेन्द्र कुमार मीणा के निर्देशन पर न्यूमोकोकल कॉन्जूगेट (पीसीवी) टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ मंगलवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ टीआर कुंवर द्वारा किया गया।  इस पीसीवी टीके द्वारा 0 से 01 वर्ष तक के बच्चों का टीकाकरण किया जाना है। इस टीके को बच्चों के नियमित टीकाकरण कार्यक्रम स्वास्थ्य विभाग द्वारा शामिल किया गया है। यह टीका 0 से 01 वर्ष तक के बच्चों को तीन चरणों में लगाया जायेगा। जिसका प्रथम टीका 06 सप्ताह पूर्ण होने के उपरांत, दूसरा टीका 14 सप्ताह पूर्ण होने के उपरांत एवं अंतिम तीसरा बुस्टर टीका 09 महीने में लगाया जाना है।
    ज्ञात हो कि इस पीवीसी टीके के लगाने से निमोनिया से बचाव किया जा सकता है। निमोनिया जैसी गंभीर बीमारी के जिले में अब तक 6521 निमोनिया केस पाये गये है। जिसमें से 692 बच्चे गंभीर अवस्था में पाये गये है। यह टीका जिला के समस्त स्वास्थ्य संस्थान जैसे जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य, केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र, आगंनबाड़ी केन्द्रो में 15 जून से 0 से 01 वर्ष तक के सभी बच्चों को न्यूमोकोकल कॉन्जूगेट (पीवीसी) टीका लगाने का कार्यक्रम प्रारंभ किया गया है। टीकाकरण कार्यक्रम के शुभांरभ के अवसर पर जिला कार्यकम प्रबंधक सोनल ध्रुव, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ रूद्र कश्यप, खण्ड चिकित्सा अधिकारी डॉ सूरज सिंह राठौर, विकासखण्ड कार्यक्रम प्रबंधक, खण्ड विस्तार एवं प्रशिक्षण अधिकारी, जनप्रतिनिधि, संरपच महादेव कश्यप एवं अन्य ग्रामवासी तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।
    इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने आमजनों से अपील की है कि निमोनिया जैसी गंभीर बीमारी से बचाव के लिए अपने बच्चों को नियमित टीकाकरण सत्र स्थल पर ले जाकर न्यूमोकोकल कॉन्जूगेट (पीवीसी) का टीका आवश्यक लगवायें।